Whatsapp Fake news Khalid, Irfan charged in Lucknow gangrape case

Ayupp
Image source social media
Ayupp

Brief Outline: A fake whatsapp post is widely being circulated in the social media claimin that two youth Khalid and Irfan are the main accused in the Lucknow gangrape case near picnic spot, jungle

Facts Check: Fake names used

What is Viral? 

मंदसौर के बाद लखनऊ में नाबालिग बच्ची से दुष्कर्म… आरोपी खालिद और इरफान गिरफ्तार… वीडियो भी बनाई..
न दिनों देश भर में जहां सरकार सुरक्षा को लेकर कई कड़े कदम उठा रही है। तो वहीं दुष्कर्म की वारदातों में बढ़ोतरी सी दिखाई दे रही है। आपको याद होगा जब कठुआ में एक बच्ची के साथ सामुहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया था।

उसके बाद मोदी सरकार ने नाबालीग बच्चियों से दुष्कर्म करने वालों के लिए फांसी का प्रावधान बनाया था। इतने कड़े कानून के भी समाज के कुछ दरिंदे अपने मंसूबे कामयाब करने में लगे हैं। जहां देशभर की निगाहें मंदसौर में हुए सात साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म को लेकर खफा हैं।

और जल्द से जल्द आरोपियों की फांसी की मांग कर रहे हैं। तो वहीं उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से भी एक दरिंदगी का मामला सामने आया है। इस मामले में एक नाबालीग को निशाना बनाया गया है। आरोपी खालीद और इरफान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

दरअसल, राजधानी लखनऊ के कुकरैल पिकनिक स्पॉट के पास स्थित जंगलों में एक नाबालिग किशोरी के साथ गैंगरेप और फिर उस पूरी घटना का वीडियो बनाने का मामला सामने आया है।

पुलिस को दी गई शिकायत के मुताबिक, यहां टेढ़ीपुलिया के एक निर्माणाधीन बिल्डिंग में काम करने वाले दो मजदूर एक राहगीर की नाबालिग बेटी को घुमाने के बहाने कुकरैल पिकनिक स्पॉट के जंगल ले गए। उसके बाद किशोरी की पिटाई कर उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया.

पीड़िता के मुताबिक, उन लोगों ने पूरी वारदात की वीडियो रिकॉर्डिंग भी की। इसके बाद उसे डरा धमकाकर बाइक पर बैठाया। ये लोग उसे लेकर घैला पुल पहुंचे, जहां किशोरी बाइक से कूद गई और शोर मचाने लगी।

लड़की की आवाज़ सुनकर पास ही गश्त लगा रही पुलिस और लोग तुरंत मौके पर पहुंचे। लोगों की नजर वहां से भाग रहे दोनों आरोपियों पर पड़ी। मामला गंभीर देख उन्होंने दोनों को दबोच लिया और पुलिस के हवाले कर दिया।

एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। पुलिस पीड़िता का मेडिकल जांच कराने की व्यवस्था करा रही है।

Google Advertisement:

Facts Check Analysis: The news of the fake Muslim names used by the facebook and whatsapp post claiming Khalid and Irfan charged in the Lucknow gangrape case, originated from a website claiming to be a news website newsyojana, The news titled मंदसौर के बाद लखनऊ में नाबालिग बच्ची से दुष्कर्म… आरोपी खालिद और इरफान गिरफ्तार… वीडियो भी बनाई.. (Archive here)

The truth about the news is little different from the original news, though the news is correct of the rape case happened near the picnic spot, near the jungle, however the person name accused in this case is not correct.

As per Hindi One India,  SSP Lucknow, Deepak Kumar stated that the two accused in the case are Bhola Chandrakar and Kushmesh Kanaujiya, both of the accused are known to the girl.

लखनऊ: पिकनिक स्पॉट पर नाबालिग से गैंगरेप, वीडियो भी बनाया

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में नाबालिग के साथ गैंगरेप और फिर पूरी घटना का वीडियो बनाने का मामला सामने आया है। पीड़िता ने बताया कि दोनों आरोपी उसे अपने साथ काम पर ले जाने की बात कहकर ले गए। आरोपी उसको कुकरैल पिकनिक स्पॉट के पास स्थित जंगलों में ले गए

 

The picture used in the viral post is of a Muslim cleric, dated 24 Nov 2017, his two relatives beaten up in train in UP. As per indianexpress “A MUSLIM cleric and two of his relatives were allegedly assaulted by some unidentified persons on board a Delhi-Shamli passenger train, in Baghpat district on Wednesday night. According to an eyewitness, the attackers said they wanted to remove the head scarves which the victims were wearing.

The girl in the fake post.

5 year old Nirmala (name changed), who was raped by her mother's boss, poses for a photo on November 12, 2015 in Maharashtra, India. One day Nirmala's mother gave her money to go to the corner store and buy food. While Nirmala was walking the man came up to her and offered to buy her candy. He took her to a wooded area behind an apartment building complex, raped her, and inserted a pen inside her. He left her naked and bleeding heavily. She required two surgeries and stayed in the hospital for three months. They caught the man two weeks later. Since he's been in jail, his family keeps coming to Nirmala's family offering them money to drop the court case. Nirmala's family has since moved to a different neighborhood because the neighbors were gossiping, saying things like 'The girl's life is spoiled, what will you do now?'. Nirmala's mother says they won't accept the money offered by the rapist's family, that they want justice instead.

Embed from Getty Images



You may also like to read our latest analysed news:

Note: If you like our work, don't forget to share and like ayupp.com on facebook, twitter.
Loading...
Ayupp News